INS IMPHAL हुआ भारतीय NAVY में शामिल

भारत को मिला एक और नई पहचान INS इम्फाल हुआ भारतीय Navy में शामिल 
INS इम्फाल हुआ भारतीय Navy में शामिलINS इम्फाल को westren naval command को शौपा गया है INS इम्फाल एक डिस्ट्रॉयर है आप की जानकारी के लिए बता दे की डिस्ट्रॉयर एक प्रकार की आधुनिक हथियारों से लैस एक शिप है जो एयरक्राफ्ट को शुरक्षा करता है

एयरक्राफ्ट कैरीएर एक बहुत बड़ा शिप है जिसपे फाइटर जेट टेकऑप तथा लैंड करती है एयरक्राफ्ट कैरीएर एक चलता फिरता एयरबेस है और इसी को संभालने के लिए इसके आसपास छोटे छोटे शिप घूमते रहता है जिसे डिस्ट्रॉयर या फ्रिगेड कहते है यह शिप एयरक्राफ्ट कैरीएर की शुरक्षा करती है अगर कोई दुश्मन देश हमारे एयरक्मिराफ्साट कैरीएर पर मिसाइल फायर कर देता है तो सबसे पहले डिस्ट्रॉयर ही खुद से उसके जबाब में मिसाइल फायर कर दे एयरक्राफ्ट कैरिएर को बचा लेता है

हालही में लालसागर में जिस प्रकार से हौथिस अटैक कर रहे है इसको ध्यान में रखते हुआ भारत ने        3 डिस्ट्रॉयर अरब सागर में उतार दिया है ताकि जो कमर्शियल शिप है जो उस रस्ते से आ रही है उसे एक शुरक्षा दिया जा सके,

Join Whatsapp Channel
Join Telegram channel

FRIGATES AND DESTROYERS में क्या अंतर होता है                                                               frigates यह Destroyers से थोरा छोटा होता है भारत के पास कुल 11destroyer थे लेकिन INS इम्फाल आने के बाद इनकी संख्या 12 हो गयी है

INS इम्फाल हुआ भारतीय Navy में शामिल

बर्तमान समय  में भारतीय नेवी का बहुत ही ज्यादा घातक  है भारत के पास अभी 132 warships है तथा 11 गाइडेड मिसाइल और तीन प्रकार की डिस्ट्रॉयर है 1.kolkata class 2.delhi class 3. rajpoot class है और 67 शिप है है

हालही में chief of naval staff (admiral R harikumar ) ने कहा है की हम चाहते है की 2035 तक भारत की warship की क्षमता  को बढ़ा कर उसे 175 तक कर देना है

INS IMPHAL को 20 october 2023 को बना कर तैयार कर दिया गया था तथा उसक्के बाद इसका ट्रायल शुरू गया

INS IMPHAL की क्या है खासियत

  1. यह पहला ऐसा destroyer है जिसमे ब्रह्मोस मिसाइल को फिट किया गया है
  2.  इसे डिजाईन indian navy warship design Bureau के द्वारा किया गया है
  3. इसे build Mazagaon dock shipbuilders LTD, के द्वारा किया गया है
  4. INS इम्फाल की लम्बाई 163 मीटर की है
  5. INS इम्फाल की वजन 7400 टन है
  6. INS इम्फाल 75% indigenous content है यही इसका 75% का भाग भारत के द्वारा बनाया गया है

Leave a Comment